बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी के नाम से हिन्दू और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नाम से मुस्लिम हटा देना चाहिए: UGC पैनल

बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी(BHU) के नाम में हिन्दू शब्द का इस्तेमाल तो अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नाम में मुस्लिम शब्द का इस्तेमाल किया गया है जबकि वास्तविकता में दोनों ही विश्वविद्यालय धर्मनिरपेक्ष है. अब दोनों ही विश्वविद्यालयों के नाम में से धर्म का नाम हटाने का सुझाव आया है.

बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी(BHU) के नाम में हिन्दू शब्द और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नाम में मुस्लिम शब्द हटाने का ये सुझाव UGC के पैनल की तरफ से आया है. पैनल का सुझाव है कि बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी धर्मनिरपेक्ष हैं , उनके नाम में भी ये झलकना चाहिए और BHU में से H तो AMU में से M हटा दिया जाना चाहिए.

UGC पैनल की ऑडिट में बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के अलावा पॉन्डिचेरी विश्वविद्यालय, इलाहाबाद विश्वविद्यालय, उत्तराखंड का हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, झारखंड का केंद्रीय विश्वविद्यालय, राजस्थान का केंद्रीय विश्वविद्यालय, जम्मू की सेंट्रल यूनिवर्सिटी, वर्धा के महात्मा गांधी विश्वविद्यालय, त्रिपुरा विश्वविद्यालय और मध्य प्रदेश के हरि सिंह गौड़ विश्वविद्यालय भी शामिल थे.

UGC पैनल ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का नाम बदल कर अलीगढ़ यूनिवर्सिटी करने या फिर इसके संस्थापक सैयद अहमद खान के नाम पर करने का सुझाव दिया है. पैनल ने AMU में कुलपति की चयन प्रक्रिया को अन्य केन्द्रीय विश्वविद्यालयों की तरह कर देने का भी सुझाव दिया है.

UGC पैनल के इस सुझाव पर HRD मिनिस्टर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी के नाम में हिन्दू शब्द और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नाम में मुस्लिम शब्द हटाने का सरकार का कोई इरादा नही है और नाम में कोई बदलाव नही किया जायेगा.

UGC पैनल के इस सुझाव पर अलग-अलग राय देखने को मिल रही है. कुछ लोग UGC पैनल के सुझाव को सही ठहरा रहे हैं तो कुछ लोग UGC पैनल के इस सुझाव से सहमत नही है. उनका कहना है कि नाम बदलने से क्या फर्क पड़ेगा.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here